सातवें आसमान पर है दिल्ली में हरी सब्जियों के दाम,भिंडी,तोरई, परवर, तक बिक रहे हैं 100 रुपये प्रतिकिलो के भाव

Facebook
Google+
https://newsquesindia.com/%E0%A4%B8%E0%A4%BE%E0%A4%A4%E0%A4%B5%E0%A5%87%E0%A4%82-%E0%A4%86%E0%A4%B8%E0%A4%AE%E0%A4%BE%E0%A4%A8-%E0%A4%AA%E0%A4%B0-%E0%A4%B9%E0%A5%88-%E0%A4%A6%E0%A4%BF%E0%A4%B2%E0%A5%8D%E0%A4%B2%E0%A5%80">
Twitter
YOUTUBE
PINTEREST
LinkedIn
INSTAGRAM
SOCIALICON

नई दिल्ली। दिल्ली में हरी सब्जियों के दाम आसमान छू रहे हैं। ऐसे में महंगाई के बोझ तले दबे आम आदमी की थाली से पौष्टिक सब्जियां पूरी तरह नदारद हो चुकी हैं।आपको बता दें कि गर्मी अभी शुरू ही हुई है और हरी सब्जियों के दाम शतक लगा रहे हैं। भिंडी,परवल,करेला आदि सब्जियां 80 से 100 रुपये प्रति किलो बेची जा रही हैं।
राजधानी दिल्ली में एक बार फिर सब्जियों के तेवर सातवें आसमान हैं। दरअसल दिल्ली में सब्जियां काफी महंगी हो गई है। गौरतलब है कि अभी गर्मी के मौसम ने दस्तक दी ही है और हरी सब्जियों के दाम ने रसोई का बजट बिगाड़ दिया है। भिंडी हो,परवल हो या करेला सभी के दाम शतक लगा रहे हैं। जहां तक प्याज की कीमत की बात है तो प्याज के दाम थोड़े कम तो हुए हैं लेकिन पिछले साल की तुलना में प्याज के दाम अभी भी काफी ज्यादा हैं।
दिनों-दिन बढ़ रही महंगाई ने आम आदमी का जीना मुश्किल कर दिया है। बढ़ती कीमतों ने लोगों की थाली से पौष्टिक आहार भी कम कर दिए हैं।चावल-आटा, दाल तो महंगे थे ही अब हरी सब्जियां भी आम आदमी को मुंह चिढ़ा रही हैं। आपको बता दें कि बाजार में हरी सब्जियां 100 रुपये प्रति किलो तक बिक रही हैं। खुदरा बाजार में तोरई 110 रुपये प्रति किलो बिक रही है। वहीं भिंडी भी 100 रुपये प्रति किलो बिक रही है। करेला भी 80 रुपये प्रति क्रिलो बेचा जा रहा है। हालांकि प्याज और आलू की कीमत इन सब्जियों की तुलना में कम है। खुदरा बाजार में प्याज 20 रुपये प्रति किलो बेचा जा रहा है तो वहीं आलू भी 15-20 रुपये किलो पर बेचा जा रहा है।
वहीं हरी सब्जियो के महंगे होने को लेकर खुदरा विक्रेताओं का कहना है कि गर्मी के आते ही बाजार में नई सब्जियों की आवक के कारण थोक बाजार में भी सब्जियां महंगी हो गई हैं। विक्रेताओं की मानें तो लगभग-लगभग सभी हरी सब्जियों के दाम 90-100 रुपये प्रतिकिलो तक पहुंच गई हैं। तोरई के भाव बीते दिनों 90-100 रुपये प्रति किलो पर पहुंच गए थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *