सऊदी से लौटी दिल्ली की महिला से 3 और लोग संक्रमित, 800 को क्वारेटाइन में रखा गया

Facebook
Google+
https://newsquesindia.com/%E0%A4%B8%E0%A4%8A%E0%A4%A6%E0%A5%80-%E0%A4%B8%E0%A5%87-%E0%A4%B2%E0%A5%8C%E0%A4%9F%E0%A5%80-%E0%A4%A6%E0%A4%BF%E0%A4%B2%E0%A5%8D%E0%A4%B2%E0%A5%80-%E0%A4%95%E0%A5%80-%E0%A4%AE%E0%A4%B9%E0%A4%BF-2">
Twitter
YOUTUBE
PINTEREST
LinkedIn
INSTAGRAM
SOCIALICON

नई दिल्ली। दिल्ली के केस नंबर-10 का कुछ दिन पहले भी जिक्र हुआ था,तब यह पता चला था कि एक महिला कोविड-19 के चेन रिएक्शन की वजह हो सकती है। तब पता चला था कि दिल्ली के 30 में से 5 मामले केस नंबर-10 से जुड़े हैं। अब 5 नए मामले सामने आए हैं, जिनमें 3 तो सिर्फ केस नंबर-10 से ही जुड़े हुए हैं। दिल्ली में कुल मामलों की संख्या 35 हो चुकी है और केस नंबर 10 में सऊदी से लौटी दिलशाद गार्डन की इस महिला समेत कुल संख्या 9 हो चुकी है।
दिल्ली की उस महिला से जिस चेन रिएक्शन का डर था। वह सामने आ रहा है। उससे लोगों में कोरोना फैलने का सिलसिला जारी है। महिला से एक डॉक्टर को भी कोरोना हुआ था और उस डॉक्टर ने सैकड़ों मरीज देखे थे। बता दें कि अब उनमें से ही करीब 800 मरीजों को क्वारेंटाइन में रखा गया है। जो 5 नए मामले बुधवार को सामने आए है। उनमें दो सैनिक फार्म के रहने वाले हैं,जो महिला से कनेक्टेड नहीं है। उनकी ब्राजील और लंदन की
ट्रैवल हिस्ट्री है। बाकी के 3 मामले सऊदी से लौटी महिला से जुड़े हैं। दिल्ली सरकार के अधिकारियों के मुताबिक महिला ने कुल 8 अन्य लोगों को संक्रमित किया है।
अगर आप जानना चाहते हैं कि कैसे कोविड-19 का मरीज कैसे संक्रमण की चेन की वजह बन सकता है,तो दिल्ली का केस नंबर-10 इसका एकदम सटीक उदाहरण है। सऊदी से लौटी इस महिला का पहले 5 लोगों के साथ लिंक साबित हुआ था। इसमें दिलशाद गार्डन के रहने वाली महिला की दो बेटियां,महिला का भाई,मां और एक डॉक्टर शामिल थे।
एक अधिकारी ने बताया था। जब महिला कोविड-19 पॉजिटिव पाई गई तो हम तुरंत उस महिला के घर गए, जिससे हमें ये पता लग सके कि 10 मार्च,जिस दिन वह दुबई से लौटी थीं,किन-किन लोगों से वह मिलीं। उन लोगों के नाम और पते पाने की कोशिश की। वह कोऑपरेटिव नहीं दिखे तो हमें स्थानीय पुलिस की मदद लेनी पड़ी। हमने सीसीटीवी कैमरों की भी मदद ली और लोगों की पहचान की।ताकि कुछ लोगों को पहचान कर उन्हें सर्विलांस में रखा जा सके।
महिला का भाई और मां उत्तर पूर्वी दिल्ली के जहांगीरपुर में रहते हैं। वह दोनों भी जिन-जिन के संपर्क में आए थे, उनकी भी स्क्रीनिंग की गई है। लेकिन उस इलाके में गंभीर स्थिति हो सकती है,जहां के मोहल्ला क्लीनिक के डॉक्टर ने मरीजों को देखा था। वह डॉक्टर भी महिला के संपर्क में आया था।
12 मार्च से 18 मार्च के बीच महिला डॉक्टर से मिली थी। जब महिला कोरोना वायरस पॉजिटिव पाई गई,उसके बाद भी डॉक्टर मोहल्ला क्लीनिक में मरीज देखते रहे। अब क्लीनिक बंद कर दिया गया है और सर्विलांस टीम उन सभी मरीजों की लिस्ट निकालने की कोशिश कर रही है, जिन्हें डॉक्टर ने देखा था। माना जा रहा है कि ये आंकड़ा 100 से भी अधिक का हो सकता है और उम्मीद ये भी है कि वह सभी डॉक्टर से संक्रमित हुए हों।
12 मार्च से मोहल्ला क्लीनिक के डॉक्टर ने कुछ मरीजों को देखा था। बुधवार को अधिकारियों ने उन लोगों को निर्देश दिए हैं जो 12 मार्च से 18 मार्च के बीच उस मोहल्ला क्लीनिक में गए थे। जिसका डॉक्टर सऊदी से लौटी महिला के संपर्क में आकर कोरोना पॉजिटिव हुआ है। निर्देश हैं कि उस डॉक्टर से मिले सभी लोग खुद को 15 दिनों के लिए सेल्फ क्वारेंटाइन में रखें। बताया जा रहा है कि ये आंकड़ा करीब 800 लोगों का है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *