विश्वविजेता ऐश्वर्या, जिसे तीन टुकड़ों में बंटी कॉलरबोन भी ना रोक पाई

Facebook
Google+
https://newsquesindia.com/%E0%A4%B5%E0%A4%BF%E0%A4%B6%E0%A5%8D%E0%A4%B5%E0%A4%B5%E0%A4%BF%E0%A4%9C%E0%A5%87%E0%A4%A4%E0%A4%BE-%E0%A4%90%E0%A4%B6%E0%A5%8D%E0%A4%B5%E0%A4%B0%E0%A5%8D%E0%A4%AF%E0%A4%BE-%E0%A4%9C%E0%A4%BF">
Twitter
LinkedIn
INSTAGRAM
SOCIALICON

क्लास 12 में मनचाहा रिजल्ट ना मिलने पर ज्यादातर लोग टूट जाते हैं, किसी चीज में मन नहीं लगा पाते और एक झटके में ट्रैक से अलग बढ़ जाते हैं। लेकिन कुछ ऐसे भी होते हैं जो जिंदगी के इस झटके को फर्स्ट गियर बनाकर आगे बढ़ जाते हैं। ऐसी ही एक शख्सियत हैं ऐश्वर्या पिस्से (Correction Needed) जिन्होंने इस वीकेंड वह कारनामा कर दिखाया जो आज से पहले कोई भारतीय महिला/पुरुष नहीं कर पाया था। महज 23 साल की ऐश्वर्या इसी वीकेंड मोटरस्पोर्ट्स में वर्ल्ड चैंपियन बनने वाली पहली भारतीय बनी हैं।

ऐश्वर्या ने FIM वर्ल्ड कप अपने नाम कर लिया है। इसके साथ ही उन्होंने मेंस और विमिंस को मिलाकर हुई जूनियर कैटेगरी में दूसरा स्थान भी हासिल किया। हिंदी मीडिया में ना के बराबर कवरेज पाने वाली ये खबर शायद आपको छोटी बात लग रही हो लेकिन ये छोटी बात है नहीं। 12वीं का रिजल्ट खराब होने के बाद MOTO GP की फैन ऐश्वर्या ने रैली/ऑफरोड बाइकिंग में हाथ आजमाना शुरू किया।

सिर्फ 18 साल की उम्र में रेसिंग ‌शुरू करने वाली ऐश्वर्या जब अपनी पहली ‘रेड डे हिमालयन’ में उतरीं तो रेस के बीच में ही उनके ब्रेक फेल हो गए और गियर लिवर गिरने के चलते पहले गियर में बाइक चलाने पर मजबूर होने के बावजूद उन्होंने इस कठिन रेस में टॉप-10 फिनिश किया। इस दौरान वह एक पुल से गिरते-गिरते बचीं और पहली ही रेस में मौत को काफी करीब से महसूस करने के बाद भी वह रुकीं नहीं।

कई बार की नेशनल चैंपियन ऐश्वर्या ने 2018 में पहली बार बाजा अरेगॉन वर्ल्ड रैली स्पेन में भाग लिया। 700-827 किलोमीटर लंबी यह रैली बाइकिंग की सबसे कठिन रैलियों में से एक है। इसे पूरा कर पाना ही अपने आप में बहुत बड़ी उपलब्धि होती है। अपनी डेब्यू रेस के वक्त ऐश्वर्या सिर्फ इसे पूरा करना चाहती थीं क्योंकि उन्हें अच्छे से पता था कि हमारे रेसर यूरोपियन रेसर्स से पीछे हैं।

ऐश्वर्या ने कहा था, निश्चित तौर पर यूरोपियन रेसिंग स्टैंडर्ड अलग हैं और मैं इसपर काम कर रही हूं कि मैं उनसे तालमेल बिठा सकूं और गैप कम कर सकूं’

लेकिन चाहना और हासिल कर पाना दोनों अलग बातें हैं। ऐश्वर्या के साथ यही हुआ और वह रेस के बीच में ही एक एक्सिडेंट का शिकार हो गईं। अपनी इंटरनेशनल डेब्यू रेस में शानदार प्रदर्शन कर रहीं ऐश्वर्या रेस के आखिरी दिन बाइक से गिर पड़ीं। रिपोर्ट्स के मुताबिक उनकी बाइक का हैंडल उनके पेट में लगा और इससे उन्हें गंभीर चोट आई। वहीं स्पेन में ही ऑपरेशन हुआ और लंबे बेडरेस्ट के बाद उन्होंने फिर से वापसी की।

वापसी के बाद ऐश्वर्या ने दुबई, पुर्तगाल, स्पेन और हंगरी में हुईं चारों बाजा में क्रमशः पहले, तीसरे, पांचवें और चौथे नंबर पर फिनिश कर वर्ल्ड चैंपियनशिप जीत ली।

जीत के बाद उन्होंने कहा, ‘मेरे पास शब्द नहीं हैं। पिछले साल जो हुआ, मेरे पहले इंटरनेशनल सीजन में जहां मैं स्पेन में एक्सिडेंट का शिकार हो गई और मुझे करियर खत्म करने की कगार पर पहुंचाने वाली चोटों से जूझना पड़ा… वहां से वापसी कर चैंपियनशिप जीतना, यह गज़ब का अनुभव है।

वह मेरे जीवन का कठिन दौर था लेकिन मैंने खुद पर भरोसा किया और मैं बाइक पर वापसी करने के लिए दृढ़संकल्पित थी।’

गौरतलब है कि साल 2017 में नेशनल चैंपियनशिप से ठीक पहले एक दिन जिम जाते वक्त एक तेज रफ्तार कैब ने ऐश्वर्या की बाइक को ठोकर मार दी थी। इस एक्सिडेंट में वह गंभीर रूप से घायल हो गई थीं। एक्सिडेंट में ऐश्वर्या की कॉलरबोन तीन टुकड़ों में टूट गई थी।

बकौल ऐश्वर्या, मेरी कॉलरबोन में एक प्लेट और सात स्क्रू लगाने पड़े थे। उस वक्त मुझे नहीं पता था कि मुझे रेस में हिस्सा लेने दिया जाएगा या नहीं, लेकिन मेरे दिमाग में बस एक बात थी कि मुझे भाग लेना ही है। और मैंने ऐसा किया भी।’

ऐश्वर्या ने ना सिर्फ उस रेस में हिस्सा लिया बल्कि उसे जीता भी और जीतने के बाद वहां ना रुकते हुए आज वर्ल्ड चैंपियन भी बन गईं।

NewsQues India is Bilingual Indian daily e- Magazine. It is published in New Delhi by NewsQues India Group. The tagline of NewsQues India is " Read News, Ask Questions".

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *