बंगाल के काथी में आज पीएम मोदी की रैली,अधिकारी परिवार का एक और सदस्य थाम सकता है BJP का दामन

Facebook
Google+
https://newsquesindia.com/%E0%A4%AC%E0%A4%82%E0%A4%97%E0%A4%BE%E0%A4%B2-%E0%A4%95%E0%A5%87-%E0%A4%95%E0%A4%BE%E0%A4%A5%E0%A5%80-%E0%A4%AE%E0%A5%87%E0%A4%82-%E0%A4%86%E0%A4%9C-%E0%A4%AA%E0%A5%80%E0%A4%8F%E0%A4%AE-%E0%A4%AE">
Twitter
YOUTUBE
PINTEREST
LinkedIn
INSTAGRAM
SOCIALICON

नई दिल्ली। आज पीएम नरेंद्र मोदी बंगाल में पूर्वी मिदनापुर के कांथी में रैली करेंगे। सूत्रों से जानकारी मिली है कि शुभेंदु अधिकारी के परिवार का एक और सदस्य पीएम मोदी की इस रैली के दौरान बीजेपी में शामिल हो सकता है। माना जा रहा है कि तमलुक लोकसभा सीट से टीएमसी सांसद दिव्येंदु अधिकारी पीएम मोदी के साथ मंच पर शामिल हो सकते हैं।
इसी रविवार को शुभेंदु अधिकारी और दिव्येंदु अधिकारी के पिता शिशिर अधिकारी ने पूर्वी मिदनापुर के एगरा में केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह की एक रैली में शामिल हुए। कांथी लोकसभा सीट से टीएमसी सांसद शिशिर अधिकारी बीजेपी में शामिल हो गए थे। 2009 से कांथी लोकसभा के सांसद रहे शिशिर अधिकारी करीब 23 सालों से ममता बनर्जी की पार्टी के साथ थे और टीएमसी के संस्थापक सदस्यों में शामिल थे। बीजेपी ने पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के खिलाफ जिले के नंदीग्राम विधानसभा क्षेत्र से शुभेंदु अधिकारी को उम्मीदवार बनाया है। शिशिर अधिकारी ने अमित शाह की रैली में कहा थाी। यह मेरे आत्म-सम्मान के लिए एक लड़ाई है।मैं हमेशा एक फाइटर रहा हूं और आने वाले समय में भी ऐसा करता रहूंगा।हम फुटपाथ से आए हैं। मैं केवल वही करूंगा जो शुभेंदु कहेगा। मैं पूर्वी मिदनापुर के सम्मान की रक्षा के लिए लड़ूंगा।
बता दें कि पिछले कई महीनों से तृणमूल कांग्रेस में खलबली मची हुई है। विधानसभा चुनाव से पहले टीएमसी के कई छोटे-बड़े नेता बीजेपी की तरफ रुख कर रहे हैं।पश्चिम बंगाल में होने वाले विधानसभा चुनाव से पहले टीएमसी के कई नेता बीजेपी में शामिल हो चुके हैं और अभी भी कुछ नेताओं का नाम सुर्खियों में बना हुआ है,जो बीजेपी में शामिल हो सकते हैं। 294-सदस्यीय बंगाल विधानसभा के लिए 27 मार्च से 29 अप्रैल तक आठ चरणों में मतदान होगा।
पश्चिम बंगाल में तृणमूल कांग्रेस की सरकार है। टीएमसी प्रमुख ममता बनर्जी राज्य की मुख्यमंत्री हैं।2016 विधानसभा चुनाव में टीएमसी ने सबसे ज्यादा 211 सीटें जीतकर सरकार बनाई थी। वहीं कांग्रेस ने 44,लेफ्ट ने 26 और बीजेपी ने मात्र तीन सीटों पर जीत दर्ज की थी। जबकि अन्य ने दस सीटों पर जीत हासिल की थी। यहां बहुमत के लिए 148 सीटें चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *