दिल्ली में बारिश ने बदला मौसम, गुजरात में कई इलाकों में बाढ़ जैसे हालात

Facebook
Google+
https://newsquesindia.com/%E0%A4%A6%E0%A4%BF%E0%A4%B2%E0%A5%8D%E0%A4%B2%E0%A5%80-%E0%A4%AE%E0%A5%87%E0%A4%82-%E0%A4%AC%E0%A4%BE%E0%A4%B0%E0%A4%BF%E0%A4%B6-%E0%A4%A8%E0%A5%87-%E0%A4%AC%E0%A4%A6%E0%A4%B2%E0%A4%BE-%E0%A4%AE">
Twitter
YOUTUBE
PINTEREST
LinkedIn
INSTAGRAM
SOCIALICON

Newsquesindia…..(Arvind Jangid)….. नई दिल्ली। मौसम विभाग ने बुधवार को कई राज्यों के लिए अलर्ट जारी किया है. बिहार के 6 जिलों में बिजली गिरने की संभावना जताई गई है। गुजरात में कई इलाके खाली करवा लिए गए हैं. आइए जानते हैं दिल्ली, उत्तर प्रदेश, मध्य प्रदेश, छत्तीसगढ़ समेत अन्य कई राज्यों के मौसम का हाल।

गुजरात, मुंबई और दिल्ली समेत उत्तर भारत के कई राज्यों में मंगलवार को मॉनसूनी बारिश हुई. मौसम विभाग के मुताबिक सौराष्ट्र-कच्छ में मॉनसून अपने पूरे जोर पर है, जिससे इस क्षेत्र में मूसलाधार बारिश हो रही है, जबकि महाराष्ट्र में तेज बारिश की आशंका है।

दिल्ली में अगले 3 से 4 दिनों में और बारिश होने की संभावना है. इसके अलावा छत्तीसगढ़, झारखंड, बिहार, उत्तर प्रदेश, पश्चिम बंगाल और ओडिशा के कुछ हिस्सों में भारी बारिश और कुल इलाकों में मध्यम बारिश हो सकती है. हरियाणा और पंजाब में मौसम सुहावना बना रहा, जबकि उत्तर प्रदेश और राजस्थान में भारी वर्षा हुई, जबकि हिमाचल प्रदेश में हल्की बारिश हुई।

असम में खतरे के निशान से ऊपर ब्रह्मपुत्र, 63 की मौत:
असम के धेमाजी जिले में बाढ़ में एक व्यक्ति की मौत हो गई, जिससे पूरे राज्य में बाढ़ और भूस्खलन की वजह से जान गंवाने वाले लोगों की संख्या 63 हो गई। बाढ़ से राज्य के 13 जिलों में लगभग दो लाख लोग अब भी प्रभावित हैं. ब्रह्मपुत्र नदी जोरहाट के निमाटीघाट और धुबरी शहर में खतरे के निशान से ऊपर बह रही है.:।

गुजरात में इलाके खाली, दूसरी जगह गए 1162 लोग:
भारी बारिश के कारण गुजरात के सौराष्ट्र में निचले इलाकों में रहने वाले 1,162 लोगों को पिछले दो दिनों में सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया गया है। इस क्षेत्र में लगातार तीसरे दिन भी बारिश होती रही. अधिकारियों ने बताया कि एनडीआरएफ ने मंगलवार को जामनगर के जोदिया ताल्लुका के एक गांव से 9 लोगों को, ध्रोल ताल्लुका से 2 और पोरबंदर जिले के 1 गांव से 3 लोगों को बचाया. ये सभी गांव नदी के तट पर स्थित हैं।

नदियां उफान पर, बाढ़ जैसी स्थिति :
गुजरात में कई नदियां उफान पर हैं जिससे गांवों में बाढ़ जैसी स्थिति बन गई है. एनडीआरएफ की 6 टीमों को सौराष्ट्र क्षेत्र में और 3 टीमों को दक्षिण गुजरात में तैनात किया गया है। भारतीय मौसम विज्ञान विभाग के अहमदाबाद केंद्र ने कहा कि सौराष्ट्र-कच्छ में मॉनसून की वजह से भारी बारिश हुई.
गुजरात में क्यों हो रही इतनी बारिश?
विभाग ने बताया कि सौराष्ट्र और सटे हुए क्षेत्रों के ऊपर कम दबाव का क्षेत्र बन गया है और उसके साथ चक्रवाती स्थिति भी है। विभाग ने देवभूमि द्वारका और कच्छ जिलों के अलग-अलग स्थानों पर बुधवार को भारी बारिश होने की संभावना जताई है।

मुंबई में बारिश
मुंबई और इसके आसपास के क्षेत्रों में पिछले 24 घंटे में मध्यम से भारी बारिश हुई है. विज्ञान विभाग ने मंगलवार को बताया कि आने वाले दिनों में इन इलाकों में रुक-रुक कर भारी बारिश हो सकती है. वहीं कुछ इलाकों में तेज बारिश की भी संभावना है।

दिल्ली में होगी बारिश
दिल्ली में बारिश की वजह से तापमान कुछ कम रहा, जबकि महानगर के अधिकांश हिस्सों में अधिकतम तापमान 35 डिग्री सेल्सियस से नीचे रहा. सफदरजंग वेधशाला ने अधिकतम 34.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया आईएमडी ने कहा कि दिल्ली में अगले दो दिनों में हल्की से मध्यम बारिश और उसके बाद रविवार तक हल्की बारिश हो सकती है।

राजस्थान में भारी बारिश का अलर्ट
राजस्थान में पिछले 24 घंटों के दौरान भरतपुर, जयपुर, उदयपुर व राजसमंद जिलों में कहीं-कहीं भारी बारिश दर्ज की गई। सर्वाधिक बारिश पूर्वी भरतपुर के बयाना में 10.3 सेंटीमीटर बारिश दर्ज की गई।
मौसम विभाग ने आगामी 48 घंटों के दौरान राज्य के अधिकतर स्थानों पर भारी बारिश, जबकि पश्चिमी इलाके में कहीं-कहीं हल्की से मध्यम बारिश होने की संभावना जताई है। भरतपुर और जयपुर संभाग के उत्तरी भागों में एक-दो जगहों पर भारी बारिश होने की संभावना जताई है।

*राजस्थान के फलौदी में 42.8 डिग्री तापमान:
मंगलवार को राजस्थान का फलौदी 42.8 डिग्री सेल्सियस के साथ सबसे गर्म स्थान रहा. बीकानेर और बाड़मेर में अधिकतम तापमान 40.1-40.1 डिग्री सेल्सियस, चूरू में 40 डिग्री, श्रीगंगानगर में 39.5 डिग्री सेल्सियस, जैसलमेर में 39.1 डिग्री सेल्सियस, पिलानी में 38.7 डिग्री सेल्सियस, जोधपुर में 37.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

यूपी में बारिश का दौर जारी:
दक्षिण पश्चिमी मॉनसून उत्तर प्रदेश में पूरे जोर पर है और पिछले 24 घंटों के दौरान मॉनसूनी बादलों ने प्रदेश के ज्यादातर इलाकों को तर-बतर कर दिया. बारिश का यह सिलसिला अभी जारी रहने का अनुमान है। मौसम विभाग के अनुसार अगले 24 घंटों के दौरान भी प्रदेश में ज्यादातर स्थानों पर बारिश होने की संभावना है. कुछ स्थानों पर भारी वर्षा भी हो सकती है। बारिश का यह सिलसिला आगामी 10 जुलाई तक जारी रहने का अनुमान है।

हरियाणा-पंजाब में बारिश
हरियाणा और पंजाब में मौसम सुहावना रहा और दोनों राज्यों में अधिकतम तापमान सामान्य सीमा के करीब रहा. चंडीगढ़ में शाम को बारिश हुई, जहां अधिकतम तापमान 35.5 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया, जबकि हरियाणा के हिसार में तापमान सामान्य से दो डिग्री कम 37.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

*हिमाचल में अलर्ट:
हिमाचल प्रदेश के कुछ हिस्सों में मंगलवार को हल्की बारिश हुई. मौसम विभाग ने हिमाचल में अगले दो से तीन दिनों में भारी बारिश की संभावना जताई है. यहां 10-11 जुलाई को भारी बारिश की चेतावनी जारी की गई है।

बिहार में बिजली गिरने से 7 की मौत:
बिहार के 5 जिलों में आंधी और बारिश के दौरान बिजली गिरने के कारण मंगलवार को 7 लोगों की मौत हो गई।
आपदा प्रबंधन विभाग के मुताबिक बिजली गिरने से बेगूसराय में 3 और भागलपुर, मुंगेर, कैमूर एवं जमुई में 1-1 व्यक्ति की मौत हो गई.

आज 6 जिलों में बिजली गिरने की संभावना :
उल्लेखनीय है कि बिहार में बिजली गिरने से पिछले हफ्ते 26 लोगों की मौत हो गयी थी. इसके अलावा 30 जून को 5 जिलों में 11 व्यक्ति और 25 जून को 22 जिलों में 96 लोगों की मौत हो गई थी. मौसम विभाग से प्राप्त जानकारी के मुताबिक बुधवार को पूर्वी चंपारण, मधुबनी, अररिया, किशनगंज, कटिहार और भागलपुर जिले में गरज के साथ भारी बारिश की संभावना जताई गई है।

रिपोर्ट – अरविन्द जांगिड़

NewsQues India is Bilingual Indian daily e- Magazine. It is published in New Delhi by NewsQues India Group. The tagline of NewsQues India is " Read News, Ask Questions".

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *