डॉक्टर गैंगरेप मामले में पुलिस जागी, लापरवाही के आरोप में 3 पुलिसकर्मी सस्पेंड

Facebook
Google+
https://newsquesindia.com/%E0%A4%A1%E0%A5%89%E0%A4%95%E0%A5%8D%E0%A4%9F%E0%A4%B0-%E0%A4%97%E0%A5%88%E0%A4%82%E0%A4%97%E0%A4%B0%E0%A5%87%E0%A4%AA-%E0%A4%AE%E0%A4%BE%E0%A4%AE%E0%A4%B2%E0%A5%87-%E0%A4%AE%E0%A5%87%E0%A4%82">
Twitter
LinkedIn
INSTAGRAM
SOCIALICON

नई दिल्ली। हैदराबाद डॉक्टर गैंगरेप मामले में विरोध प्रदर्शन के बाद आखिरकार पुलिस विभाग के आला अधिकारियों की नींद टूट गई है। इसमें लापरवाही के आरोप में 3 पुलिसकर्मियों को सस्पेंड कर दिया गया है। हैदराबाद के पुलिस कमिश्नर वीसी सज्जनार ने बताया कि सब इंस्पेक्टर एम रवि कुमार, हेड कॉन्सटेबल पी वेणुगोपाल रेड्डी और ए सत्यनारायण गौड़ को जांच पूरी होने के बाद ही सस्पेंड किया गया है।
और वहीं दूसरी ओर महिला पशुचिकित्सक के साथ गैंगरेप और हत्या के मामले में गिरफ्तार चार आरोपियों को अदालत ने 14 दिनों की न्यायिक हिरासत में भेज दिया है। भारी पुलिस सुरक्षा के बीच आरोपियों को शादनगर थाने से चंचलगुडा सेंट्रल जेल भेजा गया। चारों युवक पर आरोप है कि गैंगरेप को अंजाम देने के बाद लड़की को आग के हवाले कर दिया।और चारों ही लॉरी मजदूर हैं।
इस घटना को लेकर लोगों का विरोध प्रदर्शन अभी भी जारी है। कल हैदराबाद में बड़ी संख्या में लोगों ने उस थाने के बाहर प्रदर्शन किया। जहां महिला पशु चिकित्सक से बलात्कार और हत्या के आरोपियों को बंद किया गया था। इनमें से कुछ लोगों ने मांग की। कि आरोपियों को मौत की सजा दी जाए। स्थानीय बार एसोसिएशन ने आरोपियों को केस लड़ने के लिए वकील नहीं देने का फैसला किया है।
डॉक्टर रेप और मर्डर केस में हुआ एक और बड़ा खुलासा,इसे योजना के तहत घटना को दिया गया अंजाम वेटनरी डॉक्टर के रेप और मर्डर केस में एक और खुलासा हुआ है।जानकारी के मुताबिक महिला डॉक्टर का रेप साजिश के तहत किया गया था। पहले महिला का स्कूटर पंचर किया गया और उसके वापस लौटने के बाद पंचर बनाने का बहाना कर गैंगरेप किया और फिर मर्डर कर दिया।
जानकारी के मुताबिक घर से शाम 5.50 बजे निकल कर टोंदुपल्ली टोल गेट पर शाम 6 बजे स्कूटर पार्क कर वहीं से गची बोली में अपने क्लीनिक के लिए कैब से निकली। इस बीच वहां खड़े एक ट्रक के साथ मौजूद चार लोगों ने यह साजिश रची। उसके वापस लौटने से पहले ही स्कूटर को पंक्चर कर दिया गया। जब वेटेरिनरी डॉक्टर वापस लौटी करीब 9 बजे तो उसने देखा कि स्कूटर फ्लैट है।
ऐसे में उसे मदद कि ज़रूरत थी। उसने अपनी बहन को फोन कर बताया कि कुछ ट्रक वालों से उसे डर लग रहा है। इस बसी हाईवे पर युवती का मुंह बंद कर उसे ट्रक के पीछे ले जाया गया।और वहीं पास में एक ग्राउंड है जहां उसे घसीट कर ले गए। और इस घिनौने वारदात को अंजाम दिया। हैरानी की बात यह है,कि इस ग्राउंड में वॉचमैन का घर भी है लेकिन उसने भी इसे नोटिस नहीं किया
महिला डॉक्टर की हत्या को लेकर तेलंगाना के गृहमंत्री ने बेहद शर्मनाक बयान दिया है।गृह मंत्री मोहम्‍मद महमूद अली ने कहा कि महिला डॉक्‍टर ने अपनी बहन की जगह पुलिस को फोन किया होता तो उसे बचाया जा सकता था। उन्होंने कहा, इस घटना से हम दुखी हैं। पुलिस सतर्क है और अपराध नियंत्रित कर रही है। यह दुर्भाग्‍यपूर्ण है कि महिला डॉक्‍टर ने 100 नंबर की जगह अपनी बहन को फोन किया।अगर उन्‍होंने 100 नंबर पर कॉल किया होता तो उन्‍हें बचाया जा सकता था।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *